Status4Fun

Love status, Attitude Status,One Line Status,cool status

99+ Best Breakup Status in Hindi – Best of Hindi Status

Looking for Indians are Best Breakup Status in Hindi defined by their cool and Best Breakup Status in Hindi. Following is a completely list of latest high Best Breakup Status for. All are so compelling that you will become again and again to set a new Best Breakup Status in Hindi for WhatsApp and Facebook from this list. We have collected this status so that you need not to waste your time searching or typing across the internet for Breakup Hindi state for Whatsapp. This collection is for both our boys and girls to define their swag.

99+ Best Breakup Status in Hindi – Best of Hindi Status

  • क्या खूब मजबूरियां थी मेरी भी अपनी ख़ुशी को छोड़ दिया ” उसे ” खुश देखने के लिए
  • एक खूबसूरत सा रिश्ता यूँ खतम हो गया..हम दोस्ती निभाते रहे…..और उसे इश्क हो गया..
  • जो बीत गया सो बीत गया…आने वाला सुनहरा कल है वो…..मैं कैसे भुला दूँ दिल से उसे… मेरी हर मुश्किल का हल है वो
  • चाह कर भी उनका हाल नहीं पूछ सकते डर है कहीं कह ना दे कि ये हक्क तुम्हे किसने दिया
  • कोई भी रिश्ता अधूरा नहीं होता , बस निभाने की चाहत दोनों तरफ होनी चाहिए।
  • आज सोचा कि…. कुछ तेरे सिवा सोचूँ ..!!! .अभी तक इसी सोच में हूँ कि क्या सोचूँ ..!!!
  • गया था मै तुझसे दुर बहुत कुछ पाने के लिए ……….पर सिवाए तेरी यादो के कुछ हासिल ना हुआ !!!!
  • जिनको साथ नहीं देना होता वो अक्सर रूठ जाया करते हैं
  • तेरी बेरुखी ने छीन ली है शरारतें मेरी..और लोग समझते हैं कि मैं सुधर गया हूँ..!!!
  • बेवफ़ाओं की महफ़िल लगेग ी, आज ज़रा वक़्त पर आना ” मेहमान-ए-ख़ास ”” हो तुम…
  • छोड़ दे तू मुझे गिला भी नहीं, मुझमे अब और कुछ बचा भी नहीं, उसने बस यूँ कहा … चले जाओ जल्दबाज़ी में, कि मैं रुका भी नहीं…
  • हमे खो दोगे तो पछताओगे बहुत, ये आखरी गलती जरा सोच समझकर करना…
  • नहीं मिलेगा तुझे कोई हम सा, जा इजाजत है ज़माना आजमा ले !!
  • काश ! के वो लोट आये मुझसे ये कहने , कि तुम कोन होते हो मुझसे बिछड़ने वाले !
  • कितनी आसानी से कह दिया तुमने,कि बस अब तुम मुझे भूल जाओ, साफ साफ लफ्जो मे कह दिया होता, कि बहुत जी लिये अब तुम मर जाओ.
  • एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए, तू आज भी बेखबर है कल की तरह..
  • वो बड़े ताज्जुब से पूछ बैठा मेरे गम की वजह..फिर हल्का सा मुस्कराया, और कहा, मोहब्बत की थी ना…
  • जिनसे बेतहाशा मोहब्बत हो उनसे नाराज़गी का ताल्लुक बहुत गहरा होता है यारों
  • क्या इतने दूर निकल आये हैं हम, कि तेरे ख्यालों में भी नही आते ??
  • चले जाएँगे , एक दिन तुझे तेरे हाल पर छोड़कर , कदर क्या होती है प्यार की तुझे वक़्त ही सीखा देगा।
  • मुझे छोड़कर वो जिस शख्स के पास गयी, बराबरी का भी होता तो सब्र आ जाता।।
  • मुझ को अब तुझ से भी मोहब्बत नहीं रही,
    ऐ ज़िंदगी तेरी भी मुझे ज़रूरत नहीं रही,
    बुझ गये अब उस के इंतेज़ार के वो जलते दिए,
    कहीं भी आस-पास उस की आहट नहीं रही
  • यू ही मिले थे वो हमे अनजान बनकर, दिल मे मेरे बस गये पहचान बनकर, जाना नही था फिर भी वो दूर चली गयी, आज मिली भी तो किसी के नाम का सिंधूर बनकर !!!
  • आप हँसो तो ख़ुशी मुझे होती है ,
    आप रूठो आँखे मेरी रोती है ,
    आप दूर जाओ बेचैनी होती है ,
    महसूस करके देखो प्यार में ज़िन्दगी कैसी होती है
  • आखिरी बार तेरे प्यार को सजदा कर लूँ ,
    लौट कर फिर तेरी महफ़िल में ना आएंगे ,
    अपनी बर्बाद मोहब्बत का जनाज़ा लेकर ,
    तेरी दुनिया से बहुत दूर चले जायेंगे।
  • यूहीं किसी की याद मे रोना फ़िज़ूल है,
    इतने अनमोल आँसू खोना फ़िज़ूल है,
    रोना है तो उनके लिये जो हम पे निसार है,
    उनके लिये क्या रोना जिनके आशिक़ हज़ार है..!
  • तनहा रहना तो सीख लिया हमने ,
    पर खुश ना कभी रह पाएंगे ,
    तेरी दूरी तो फिर भी सह लेता है ये दिल ,
    पर तेरी मोहब्बत के बिना ना जी पाएंगे।
  • तुम्हारी हर बात बेवफाई की कहानी है,
    लेकिन तेरी हर एक साँस मेरी ज़िन्दगी की निशानी है ,
    तुम आज तक समझ नहीं पाई मेरे इस प्यार को ,
    मेरे आँसू भी तुम्हारे लिए सिर्फ पानी है
  • हम रोए भी तो वो जान ना सके… वो उदास भी हुए हुए तो हमें खबर हो गई..
  • उन्होंने हमसे दो चार बाते क्या कर ली। अब वो कहने लगे आप हमे परेशान करने लगे हो।
  • निगाहों में अभी तक दूसरा कोई चेहरा ही नहीं आया, भरोसा ही कुछ ऐसा था तुम्हारे लौट आने का…
  • गुज़र गया दिन अपनी तमाम रौनक लेकर। ज़िन्दगी ने वफ़ा कि तो कल फिर सिलसिले होंगे।
  • कभी टूट कर बिखरो तो मेरे पास आ जाना,मुझे अपने जैसे लोग बहुत पसंद हैं ।
  • तकलीफें तो हज़ारों हैं इस ज़माने में, बस कोई अपना नज़र अंदाज़ करे तो बर्दाश्त नहीं होता !!
  • तड़प के देखो किसी की चाहत में, तो पता चलेगा, कि इंतजार क्या होता है, यूं ही मिल जाए, कोई बिना चाहे, तो कैसे पता चलेगा कि प्यार क्या होता है.
  • लो..बदल गया मिजाज-ऎ-मौसम…. हुबहू तुम्हारी तरह..!!!
  • बेशक खूबसूरत तो वो आज भी है,लेकिन चेहरे पर वो मुस्कान नहीं,जो हम लाया करते थे…!
  • भूल जाने का मशवरा और जिँदगी बनाने की सलाह,ये कुछ तोहफे मिले थे, उनसे आखिरी मुलाकात मेँ….!!
  • काश !! OLX पे उदासी और अकेलापन भी बेचा जा सकता
  • चलते रहेंगे क़ाफ़िले मेरे बग़ैर भी यहाँ.एक तारा टूट जाने से, फ़लक़ सूना नहीं होता
  • आँखों के समंदर में कभी उतर कर न देखा, दिल के दरिया में कभी बहकर न देखा. सब कहते रहे मुझको कि पत्थर दिल हूँ मैं, मोम का बना था मैं, मगर किसी ने छूकर न देखा..
  • इश्क हमें जीना सिखा देता है, वफा के नाम पर मरना सिखा देता है…इश्क नहीं किया तो करके देखो, जालिम हर दर्द सहना सिखा देता है
  • उसने कहा भूल जाओ मुझे , हमने कह दिया , कौन हो तुम ?
  • याद आयेगी हमारी तो बीते कल की किताब पलट लेना यूँ ही किसी पन्ने पर मुस्कुराते हुए हम मिल जायेंगे।
  • आँसू आ जाते हैं आँखों में पर लबों पर हंसी लानी पड़ती है ये मोहब्बत भी क्या चीज़ है यारो जिस से करते हैं उसी से छुपानी पड़ती है।
  • रोज तेरा इंतजार होता है रोज ये दिल बेक़रार होता है काश के तुम समझ सकते के चुप रहने वालों को भी प्यार होता है
  • क़ाश कोई ऐसा हो, जो गले लगा कर कहे…!! तेरे दर्द से मुझे भी तकलीफ होती है
  • “जो फुर्सत मिले तो मुड़कर देख लेना मुझे एक दफा तेरे प्यार में पागल होने की चाहत मुझे आज भी है !”
  • “हालात ने तोड़ दिया हमें कच्चे धागे की तरह, वरना हमारे वादे भी कभी ज़ंजीर हुआ करते थे ।”
  • “शब्दों से ही लोगों के दिलों पे राज किया जाता है, चेहरे का क्या वो तो किसी भी हादसे से बदल सकता है.”
  • “काश ‪मोहब्बत के भी इलैक्शन होते भी कुछ खर्चा करके जीत लेते उसको “
  • “फासलों का एहसास तो तब हुआ, जब मैनें कहा मैं ठीक हूँ और उसने मान भी लिया !”
  • “हम ने ‎मोहब्बत के नशे ‎में आ कर, उसे खुदा बना डाला होश तब आया जब उस ने कहा, कि ‎खुदा किसी ‪‎एक का नहीं होता ।”
  • “मोहब्बत खो गयी मेरी, बेवफ़ाई के दलदल में, मगर इन पागल आँखो को, आज भी तेरी तलाश रहती है।”
  • “अच्छा हुआ तुमने ठुकरा दिया मोहब्बत चाइये थी, तुम्हारा एहसान नहीं ।”
  • “अभी तो जरा वक़्त है, उनका आजमाने दो उनको रो रो कर पुकारेंगें हमे जरा हमारा वक़्त तो आने दो ।”
  • “सिमटते जा रहें हैं दिल और जज्बात के रिश्ते सौदा करने में जो माहिर है, बस वही धनवान है
  • “तमन्ना जब किसी की नाकाम होती है, जिन्दगी उस की एक उदास शाम होती है, दिल के साथ दौलत ना हो जिस के पास, मोहब्बत उस गरीब की नीलाम होती है ।”
  • “उसे तेरी इबादतों पे यकीन है, नहीं जिस की ख़ुशियां तू रब से रो रो के मांगता है ।”
  • “बड़ी मुस्किल से बनाया था, अपने आपको काबिल उसके उसने ये कहकर बिखेर दिया की तुमसे मोह्बत तो है पर पाने की चाहत नही हैं ।”
  • “लोग अपना बना के छोड़ देते हैं, अपनों से रिशता तोड़ कर गैरों से जोड़ लेते हैं, हम तो एक फूल ना तोड़ सके, नाजाने लोग दिल कैसे तोड़ देते हैं.”
  • “न, मोहब्बत का कोई क़ुसूर नहीं, उसे तो मुझसे रूठना ही था दिल मेरा शीशे सा साफ़, और शीशे का अंजाम तो टूटना ही था !”
  • “हमको खबर भी होने नही दी किस मोड़ पर लाकर दिल तुने तोड़ा अपना बनाना रहा दूर तुने औरो के हो जाए ऐसा ना छोड़ा ।”
  • “इतनी हिम्मत तो नहीं किसी को हाल ये दिल सुना सके, बस जिसके लिये उदास है बो महसूस करे तो काफी है !”
  • “याद मीठी सी दिलाकर चले गए दिल हमारा साथ उठा कर चले गए ! सबे महफिल देखती ही रह गई ! वो मस्त ऑखों से पिलाकर चले गए !”
  • “तुम पूछो और मैं न बताऊं ऐसे तो हालात नहीं एक जरा सा दिल टूटा है, और तो कोई बात नहीं ।”
  • “बहुत भीड़ हो गई तेरे दिल में “जालिम”, अच्छा हुआ हम वक्त पर निकल गए ।”
  • “ना दर्द हुआ सीने में, ना माथे पे शिकन आई। इस बार जो दिल टूटा तो बस मुस्कान आई ।”
  • “हम तेरे इश्क़ के उस मुक़ाम पर आ पहुंचे हैं, जहाँ दिल किसी और को चाहे तो गुनाह लगता है ।”
  • “मुझे कहाँ से आएगा लोगो का दिल जीतना मै तो अपना भी हार बैठा हुँ ।”
  • “ये दिल अजीब है, अक्सर कमाल करता है, नहीं जवाब जिनका वो सवाल करता है ।”
  • “हमने सिर्फ अपने आंसूऒ की वजह लिखी है, पता नहीं लोग क्यों कहते है, वाह क्या शायरी लिखी है ।”
  • “प्यार किया तो उनकी महोब्बत नजर आई, दर्द हुआ तो पलके उनकी भर आई, दो दिलों की धड़कन में एक बात नज़र आई, दिल तो उनका धड़का पर आवाज इस दिल से आई ।”
  • “यादों की किम्मत वो क्या जाने जो ख़ुद यादों को मिटा दिए करते हैं, यादों का मतलब तो उनसे पूछो जो, यादों के सहारे जिया करते हैं!”
  • “दिल मजबूर कर रहा है, उनसे बात करने को, और कम्बखत वो नाराज होके बैठ जाती है ।”
  • “नफ़रत करना तो कभी सिखा ही नहीं साहेब, हमने दर्द को भी चाहा है अपना समझ कर !”
  • “दर्द ऐ महोबत तो हमने भी बहुत की, पर भुल गये थे की Heroin कभी Villain की नही होती ।”
  • दर्द काफी है बेखुदी के लिए, मौत काफी है ज़िन्दगी के लिए, कौन मरता है किसी के लिए, हम तो ज़िंदा है आपके लिए…
  • अपनी तो ज़िन्दगी ही अजीब कहानी है.. जिस चीज़ को चाहा वो ही बेगानी है… हँसते है तो सिर्फ दोस्तों को हसाने के लिए … वरना इन आँखों में में पानी ही पानी है…
  • आँसू आ जाते हैँ आखोँ मेँ रोने से पहले… खुआब टूट जाते हैँ पूरे होने से पहले….प्यार गुनाह है यह तो समझ गए… काश कोई रोक लेता यह गुनाह होने से पहले।
  • एक “सफ़र” ऐसा भी होता है दोस्तों……जिसमें “पैर” नहीं “दिल” थक जाता है…
  • सामने होते हुए भी तुझसे दूर रहना.. बेबसी की इससे बड़ी मिसाल क्या होगी…
  • तू मुझमें पहले भी था ,तू मुझमें अब भी है… पहले मेरे लफ्जों में था अब मेरी खामोशियों में है।
  • अब क्या बताये किसी को कि ये क्या सजा है, इस बेनाम ख़ामोशी की क्या वजह है।
  • मुझको ढुँढ लेता है रोज किसी बहाने से, दर्द वाकिफ हो गया हैँ मेरे हर ठिकाने से…
  • मेरा यूँ टुटना और टूटकर बिखर जाना कोई इत्फाक नहीं.. किसी ने बहुत कोशिश की है मुझे इस हाल तक पहुँचाने में…
  • ख़्वाहिशों का कैदी हूँ,मुझे हकीक़तें सज़ा देती हैं!
  • कभी पिघलेंगे पत्थर भी मोहब्बत की तपिश पाकर,बस यही सोच कर हम पत्थर से दिल लगा बैठे..
  • तेरे रोने से उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ता ऐ दिल..जिनके चाहने वाले ज्यादा हो..वो अक्सर बे दर्द हुआ करते हैं
  • बहुत अज़ीब होती है ये यादें भी मोहब्बत की..जिन पलों में हम रोए थे,उन्हें याद करके हमें हसीं आती है…और जिन पलों में हसें थे ..उन्हें याद करके रोना आता है॥
  • कुछ रिशते ऐसे होते हैं..जिनको जोड़ते जोड़ते इन्सान खुद टूट जाता है।
  • Life में एक partner होना जरुरी है. वर्ना दिल की बात status पर लिखनी पड़ती है…!!
  • खामोश हूँ तो सिर्फ़ तुम्हारी खुशी के लिए…..ये न सोचना की मेरा दिल दुःखता नहीं ….!!
  • किसी ने यूँ ही पूछ लिया हमसे कि दर्द की कीमत क्या है;हमने हँसते हुए कहा, “पता नहीं… कुछ अपने मुफ्त में दे जाते हैं।
  • आज हम हैं, कल हमारी यादें होंगी. जब हम ना होंगे, तब हमारी बातें होंगी. कभी पलटो गे जिंदगी के ये पन्ने, तो शायद आप की आँखों से भी बरसातें होंगी
  • मेहनत कितनी भी कर लो, किस्मत अगर कमीनी है तो जिंदगी साउथ अफ्रीका हो जाती हैं
  • आज सोचा जिंन्दा हुँ, तो घूम लूँ, मरने के बाद तो भटकना ही है…!
  • युं ही हम दिल को साफ़ रखा करते थे…पता नही था की, ‘किमत चेहरों की होती है’ !
  • है दफ़न मुझमे कितनी रौनके मत पूछ ऐ दोस्त…..हर बार उजड़ के भी बस्ता रहा वो शहर हूँ मैं!!
  • तेरी आँखों से यून तो सागर भी पिए हैं मैने,तुझे क्या खबर जुदाई के दिन कैसे जिए हैं मैने…
  • बदनाम क्यों करते हो तुम इश्क़ को , ए दुनिया वालो…मेहबूब तुम्हारा बेवफा है ,तो इश्क़ का क्या कसूर..!! ?
  • दिल ही दिल में कुछ छुपाती है वो, यादों में आ कर चैन चुराती है वो,ख्वाबों में एक ऐहसास जगा रखा है, बन्द आँखों में अश्क बन के तडपाती है वो..
  • टूट जायेंगी उसकी “ज़िद” की आदत उस वक़्त…जब मिलेगी ख़बर उनको की याद करने वाला अब याद बन गया है…
  • उसके दिल पर भी, क्या खूब गुज़री होगी..जिसने इस दर्द का नाम, मोहब्बत रखा होगा..!
  • हमसे भुलाया ही नहीं जाता, एक मुखलिस का प्यार;लोग जिगर वाले हैं, जो रोज नया महबूब बना लेते हैं!”
  • लम्हों की दौलत से दोनों महरूम रहे ,मुझे चुराना न आया, तुम्हें कमाना न आया
  • शर्मिंदा करते हो रोज, हाल हमारा पूँछ कर ,हाल हमारा वही है जो तुमने बना रखा है…
  • मुझे मंजूर थे वक़्त के सब सितम मगर , तुमसे मिलकर बिछड़ जाना, ये सजा ज़रा ज्यादा हो गयी।।
  • तू मांग तो सही अपनी दुआओ मे बददुआ मेरे लिए मै हंसकर खुदा से आमीन कह दूंगा … !
  • सिर्फ तूने ही कभी मुझको अपना न समझा ,जमाना तो आज भी मुझे तेरा दीवाना कहता है
  • पिछले बरस था खौफ की तुझको खो ना दूँ कही,अब के बरस ये दुआ है की तेरा सामना ना हो।
  • नाकाम मोहबत्त भी बड़े काम की होती है ,दिल मिले ना मिले इलज़ाम जरुर मिल जाता है।।
  • उसकी जुदाई को लफ़्ज़ों में कैसे बयान करें…वो रहता दिल में…धडकता दर्द में…और बहता अश्क में…!
  • “तेरे बाद खुद को इतना तनहा पाया जैसे लोग हमें दफना के चले गए हो |”
  • “मुद्दतों बाद हमने समझा तो क्या समझा हम एक जरुरत थे, जो वक्त के साथ ख़त्म हो गई!|”
  • “शराब से कुछ तो शराफत सीख ले ऐ इश्क बोतल पे कम से कम लिखा तो है, कि मै जानलेवा हूँ |”
  • “सुनो ! महफूज कर लो न हमें खुद में के बिन तेरे, बेवजह बिखर रहे हैं हम |”
  • “है कोई वकील इस जहान में, जो हारा हुआ इश्क जीता दे मुझको |”
  • “बर्बाद करना था तो किसी और तरीके से करते ! जिंदगी बनकर जिंदगी से जिंदगी ही छीन ली तुमने |”
  • “अब किस्मत ही मिला दें तो मिला दें वरना हम तो बिछड़ गये हैं, तूफान में परिंदों की तरह |”
  • “समय बहाकर ले जाता है, नाम और ‎निशां लेकिन कोई ‎हम में रह जाता है, और किसी में हम !”
  • “तेरे दिल में क्या है, ये तू ही जाने मेरे होठ तो आज भी मुस्कुरा जाते है तुझे सोचकर |”
  • “मै इस काबिल तो नहीं की कोई मुझेअपना समझे पर इतना यकीन है, कोई अफसोस जरूर करेगा मुझे खो देने के बाद |”
  • “दिमाग पर ज़ोर लगा कर गिनते हो गलतियाँ मेरी कभी दिल पर हाथ रख के पूछना कसूर किसका है।”
  • “कल रात चाँद बिकुल उनके जैसा था वही नूर वही गरूर वही सरूर, वही उनकी तरह हमसे कोसो दूर |”
  • “मत पूछ कैसे गुजरे दिन कैसी बीते रात बहोत तनहा जिए है, हम तुझसे बिछड़ने के बाद |”
  • “सुन Chhori अगर थारी फितरत है, दील तोड़ के जाने की है, तो इस Gujrat के छोरो की भी आदत है Daily नई पटाने की |”
  • “फिर पलकों पर ठहर गइ नमी, दिल ने कहा बस “ऐक तेरी कमी |”
  • “आ मिलकर ढूंढ ले कोई वजह फिर से एक हो जाने की यूँ बिछड़े बिछड़े ना तुम अच्छे लगते हो ना मैं |”
  • “वो रोज रोज बिछडे तो कौन याद करे मगर वो इक रोज ना आये तो याद बहुत आते है |”
  • “इश्क के रिश्ते भी बड़े नाजुक होते है, साहब रात को नम्बर बिजी आने पर भी टूट जाते है |”
  • “जो चले जाते हैं ख़ामोशी की चादर ओढे उनकी यादें बहुत शोर मचाया करती हैं |”
  • “ये तो बस वही जान सकता है मेरी तनहाई का आलम जिसने जिन्दगी में किसी को पाने से पहले खोया है |”
  • युं तो गलत नही होते अंदाज चहेरों के..लेकिन लोग, वैसे भी नहीं होते जैसे नजर आते है..
  • हर सिग्नल तेरी याद दिलाता है, तूने भी रंग कुछ इसी तरह बदला था…!
  • लिखना तो ये था कि खुश हूँ तेरे बगैर भी. पर कलम से पहले आँसू कागज़ पर गिर गया..
  • हम रूठे दिलों को मनाने में रह गए; गैरों को अपना दर्द सुनाने में रह गए; मंज़िल हमारी, हमारे करीब से गुज़र गयी; हम दूसरों को रास्ता दिखाने में रह गए।
  • दिल से खेलना तो हमे भी आता है… लेकिन जिस खैल मे खिलौना टुट जाए वो खेल हमे पसंद नही..
  • दिल तो करता हैं की रूठ जाऊँ कभी बच्चों की तरह फिर सोचता हूँ कि मनाएगा कौन….?
  • बिना उसके दिल का हाल कैसे बतलाऊ…!! जैसे खाली बस्ता हो किसी नालायक बच्चे का…!!
  • एहसान किसी का वो रखते नहीं मेरा भी चुका दिया, जितना खाया था नमक मेरा, मेरे जख्मों पर लगा दिया.
  • तुम अपने ज़ुल्म की इन्तेहाँ कर दो, फिर कोई हम सा बेजुबां मिले ना मिले…
  • एक खेल रत्न उसको भी दे दो ,बड़ा अच्छा खेलती है वो दिल से
  • टूट जायेंगी उसकी “ज़िद” की आदत उस वक़्त…जब मिलेगी ख़बर उनको की याद करने वाला अब याद बन गया है…
  • हर रात जान बूझकर रखता हूँ दरवाज़ा खुला…शायद कोई लुटेरा मेरा गम भी लूट ले….
  • नींद भी नीलाम हो जाती है बाज़ार -ए- इश्क में,किसी को भूल कर सो जाना, आसान नहीं होता !
  • मैंने पूछा उनसे, भुला दिया मुझको कैसे..? चुटकियाँ बजा के वो बोली…ऐसे, ऐसे, ऐसे
  • हम वफा की दुनिया के बादशाह हे ,
    और हमारी रियासत में बेवफा को मुजरा करने की भी इजाजत नही मिलती,
    फिर चाहे वो रानी हो या राजकुमारी !
  • तोड़ कर देख लिया आईना-ए-दिल तूने;
    तेरी सूरत के सिवा और बता क्या निकला।
  • नहीं मिलेगा तुझे कोई हम सा,
    जा इजाजत है ज़माना आजमा ले !
  • ऐ दिल थोड़ी सी हिम्मत कर ना यार,
    दोनों मिल कर उसे भूल जाते है…..!!!!!
  • डूबी हे मेरी उंगलिया खुद अपने लहू में,
    ये कांच के टुकडो को उठाने की सजा हे !
  • हम भी ‪‎किसी की ‪दिल की ‪हवालात में ‪‎कैद थे..!! फिर उसने ‪‎गैरों के ‪‎जमानत पर हमें ‪ रिहा कर दिया..!!? ? ? ?…
  • अपनी जवानी ? में और ‪रखा ही क्या है, ☝कुछ तस्वीरें ? ‪‎यार ? की ‪‎बाकी बोतलें शराब की ।।
  • जिस्म ? पर ‪‎जो निशान ☝ हैं ना ‪‎जनाब, ?वो ‪बचपन के ☝ हैं बाद के ? तो ‪सारे दिल ❤ ‪‎पर है ।। ?
  • बारिश के ‪बाद तार पर ‪टंगी ‪आख़री ‪‎बूंद से पूछना, क्या होता है ‪‎अकेलापन
  • बिखरा वज़ूद, टूटे ख़्वाब, सुलगती तन्हाईयाँ …. कितने हसींन तोहफे दे जाती है ये अधूरी मोहब्बत
  • किसे इल्ज़ाम दे अपने जज़्बातो के क़त्ल का… समझदार बनने का शौख तो हमे ही था..
  • खुद को माफ़ नहीं कर पाओगे, जिस दिन जिंदगी में हमारी कमी पाओगे..
  • उसने कहा हमसे.. हम तुम्हें बर्बाद कर देंगे. हमने मुस्कुरा के पूछा… क्या तुम भी मोहब्बत करोगे अब हमसे..??
  • रोज़ एक नई तकलीफ.. रोज़ एक नया गम…. ना जाने कब ऐलान होगा की मर गए हम….
  • मेरी यादों की कश्ती उस समुन्दर में तैरती है, जहाँ पानी सिर्फ और सिर्फ मेरी पलकों का होता है..!
  • अभी तक याद कर रहा है ए पागल दिल, उसने तो तेरे बाद भी हजारो भुला दिए
  • घुटन सी होने लगी है, इश्क़ जताते हुए, मैं खुद से रूठ गया हूँ, तुम्हे मनाते हुए…
  • अजीब रंगो में गुजरी है, मेरी जिंदगी, दिलों पर राज़ किया पर मोहब्बत को तरस गए..
  • मेरी आँखों में आँसू नहीं, बस कुछ “नमी” है.. वजह तू नहीं, तेरी ये “कमी” है..
  • तकलीफ ये नही की किस्मत ने मुझे धोखा दिया, मेरा यकीन तुम पर था किस्मत पर नही..
  • अखबार तो रोज़ आता है घर में, बस अपनों की ख़बर नहीं आती.
  • किसी को चाह कर ना पाना दर्द देता है, लेकिन पाकर खो देना जिँदगी तबाह कर जाता है…..!
  • तुझे झूठ बोलना हमने ही सिखाया है… तेरी हर बात सच मान कर ।
  • दर्द की भी अपनी एक अदा है.. ये तो सहने वालों पर ही फ़िदा है।
  • बेशक तू बदल ले अपने आपको लेकिन ये याद रखना.. तेरे हर झूठ को सच मेरे सिवा कोई नही समझ सकता…!
  • “बस इतने में ही कश्ती डुबा दी हमने जहाँ पहुंचना था वो किनारा ना रहा गिर पड़ते है, लडखडा के कदमों से जो थामा करता था वो आज सहारा ना रहा ।”
  • “मैं तुमसे अब कुछ नहीं माँगता ए ख़ुदा, तेरी देकर छीन लेने की आदत मुझे मंज़ूर नहीं |”
  • “में तो वो खो रहा हूँ जो मेरा ना था, पर तुम वो खो रही हो जो सिर्फ तुम्हारा था |”
  • “इतने बुरे ना थे जो ठुकरा दिया तुमने हमेँ. तेरे अपने फैसले पर एक दिन तुझे भी अफसोस होगा |”
  • “सब्र रखो जल्द ही महसूस होगा तुम्हें मेरा होना क्या था मेरा ना होना क्या है |”
  • “कैसी पहचान बनाई है, तूने अपनी नाम तेरा आने पर भी लोग याद मुझे करते हैं |”
  • “Breakup के बाद भी अगर उसका Last Seen, Profile और Status चेक करते हो
    तो समझना की वो दिमाग़ से अलग हुई है, दिल से नहीं |”
  • “हमें रोता देखकर वो ये कह के चल दिए कि रोता तो हर कोई है, क्या हम सब के हो जाएँ |”
  • “मत सोना कभी किसी के कन्धे पर सर रख कर, जब ये बिछडते हे तो रेशम के तकिये पर भी नीँन्द नहीँ आती |”
  • “Waqt पर न जा Waqt तो हर ज़ख्म की दवा है, आज तुमने हमें भुला दिया कल तुझे भी कोई भुला देगा |”
  • “हमने सोचा था की बताएँगे उन को दुःख दर्द अपना उसने तो इतना भी नहीं पूछा की उदास क्यों हो |”
  • “बारिश और महोबत दोनों ही यादगार होते हे, बारिश में जिस्म भीगता हैं, और महोबत मैं आँखे |”
  • “वो हमेशा कहते थे हमसे तुम्हें अपना बना के छोडेंगे कितना सही था अपना भी बनाया और छोड भी दिया |”
  • “आज तक रखे हैं पछतावे की अलमारी में एक दो वादे जो दोनों से निभाये ना गए |”
  • “वो कहते हैं बता तेरा दर्द कैसे समझूँ मैं ने कहा इश्क़ कर बहुत कर और करके हार जा |”
  • “जाते हुए उसने सिर्फ इतना कहा मुझसे ओ पागल अपनी ज़िंदगी जी लेना वैसे प्यार अच्छा करते हो |”
  • “तुम्हारे हुसन कि तारीफ़ करने वाले और भी है, लकिन हम तारीफ़ नहीं तुम्से प्यार करते थे बस तुम ही समझ न पाई |”
  • “प्यार इंसान को इतना मजबूत कर देता है, के वो दुनिया से जीत सकता है, पर इतना कमजोर भी के वो उस एक शख्स से हार जाता है |”
  • “क्यों बहाने करते थे मुझसे रूठ जाने के, कह देते दिल में जगह नहीं है तेरे लिए |”
  • “हालात ने तोड़ दिया हमें कच्चे धागे की तरह, वरना हमारे वादे भी कभी ज़ंजीर हुआ करते थे ।”
  • “हसीन आँखों को पढ़ने का अभी तक शौक है, मुझको मुहब्बत में उजड़ कर भी मेरी ये आदत नहीं बदली ।”
  • “लगाकर आग़ सीने में, कहाँ चले हो तुम हमदम? अभी तो राख़ उडने दो, तमाशा और भी होगा !”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Status4Fun © 2018 Frontier Theme