Status4Fun

Love status, Attitude Status,One Line Status,cool status

99+ Best Broken heart Status in Hindi – Best of Hindi Status

looking for Indians are Best Broken heart Status in Hindi defined by their cool and best attitude status. Having it, then why not set a status on Sad to define it. Following is a complete list of latest high Attitude Status in Hindi for. All are so compelling that you will come again and again to set a new Attitude Status in Hindi for WhatsApp and Facebook from this list. We have collected this status so that you need not waste your time searching or typing across the internet for Best Broken heart Status in Hindi Best Broken heart Status in Hindi for Whatsapp. This collection is for both boys and girls to define their swag.

99+ Best Broken heart Status in Hindi – Best of Hindi Status

  • ज़िन्दगी भी कमाल की हैं, तू गरीबो को महेल के सपने देखाती हैं, जिस में अमीरो को नींद नहीं आती!
  •  रह में चले ये सोच कर के किसीको अपना बनना लेंगे, मगर इस तम्मना ने ज़िन्दगी भर का मुसाफिर बनना दिया!
  • ज़िन्दगी तु ही बता कैसे तुजसे प्यार करू, तेरी हर एक सुबह मेरी उम्र काम कर देती हैं!
  • आइना कोई ऐसा बना दे ऐ खुदा जो, इंसान का चेहरा नहीं किरदार दिखा दे!
  •  हमे जब नींद आएगी तो इस कदर सोएंगे के लोग रोएंगे हमे जगाने के लिए!
  • तकलीफतो ज़िन्दगी देती हैं, मोतको तो लोगोने यूही बदनाम किया हैं!
  •  जी भर गया है तो बता दो हमें इनकार पसंद है इंतजार नहीं!
  •  में क्यों पुकारू उसे की लौट आओ, क्या उसे खबर नहीं की कुछ नहीं मेरे पास उसके सिवाय!
  •  आइना कोई ऐसा बना दे ऐ खुदा जो, इंसान का चेहरा नहीं किरदार दिखा दे!
  •  दर्द दिलो के कम होजाते अगर में और तुम हम होजाते!
  •  सच केह रहा हैं ये दीवाना, दिल्ना किसीसे लगाना!
  •  सच्ची मोहबत तो अक्सर दिलतोड़ने वालीसेही होती हैं!
  •  अब नींदसे कोई वास्ता नहीं! मेरा कौन हैं, ये सोच सोच के रात गुज़र जाती हैं!
  •  उसने कहा था आँख भरके देखा करो, अब आँख भर आती हैं पर वो नज़र नहीं आती!
  •  इ सितमगर, कदर किया होती हैं तुजे वक़्क़त बताएगा!
  •  साँसोका टूटजाना तो आमबात हैं, जहा अपने बदलजाये मोत तो तब आती हैं!
  •  अगर वो मेरी होजाती, तो में दुन्यकी सारी कितबोसे लफ़्ज़े बेवफा मिटादेता!
  •  सुन रहा हैं ना तू रो रही ही हु में…
  •  जिसकी सजा तुम हो, मुझे एसा गुनाह करना हैं!
  •  वो बड़े ताज्जुब से पूछ बैठा मेरे गम की वजह, फिर हल्का सा मुस्कराया और कहा, मोहब्बत की थी ना!
  •  मेरी दिल की दिवार पर तस्वीर हो तेरी _और तेरे हाथों में हो तकदीर मेरी!
  •  वो शाम का दायरा मिटने नहीं देते, हमसे सुबहे का इंतज़ार होता नहीं है.
  •  तजुर्बे ने एक ही बात सिखाई है, नया दर्द ही पुराने दर्द की दवाई है!
  •  तुम मुझे अच्छे या बुरे नहीं लगते बस अपने लगते हो.
  •  एक हसरत थी की कभी वो भी हमे मनाये..पर ये कम्ब्खत Dil कभी उनसे रूठा ही नही.
  • क्या ऐसा नहीं हो सकता हम Pyaar मांगे… और तुम hme गले लगा के कहो, और कुछ?
  •  सुनो ना… हम पर मोहब्बत नही आती तुम्हें, रहम तो आता होगा?
  •  बहुत देर करदी तुमने मेरी धडकनें महसूस करने में. वो दिल नीलाम हो गया, जिस पर कभी हकुमत तुम्हारी थी.
  •  रिश्ते उन्ही से बनाओ जो निभानेकी औकात रखते हो, बाकी हरेक दिल काबिल-ऐ-वफा नही होता।
  •  हाथ की लकीरें भी कितनी अजीब हैं, हाथ के अन्दर हैं पर काबू से बाहर.
  • किसी ने धूल क्या झोंकी आखों में, पहले से बेहतर दिखने लगा है.
  •  वो बोलते रहे हम सुनते रहे, जवाब आँखों में था वो जुबान में ढूंढते रहे.
  •  यूँ गुमसुम मत बैठो पराये से लगते हो, मीठी बातें नहीं करना है तो चलो झगड़ा ही कर लो.
  •  हमने तुम्हें उस दिन से और ज़्यादा चाहा है, जबसे मालूम हुआ के तुम हमारे होना नही चाहते.
  •  काश एक ख़्वाहिश पूरी हो इबादत के बगैर, तुम आ कर गले लगा लो मुझे, मेरी इज़ाज़त के बगैर.
  •  ज़िन्दगी जोकर सी निकली, कोई अपना भी नहीं….कोई पराया भी नहीं.
  •  आने वाला कल अच्छा होगा, बस इसी सोच मे आज बीत जाता है.
  •  मेरी कोशिश हमेशा से ही नाकाम रही पहले तुजे पाने की अब तुजे भुलाने की.
  •  छोड दी हमने हमेशा के लिए उसकी, आरजू करना, जिसे मोहब्बत, की कद्र ना हो उसे दुआओ, मे क्या मांगना.
  •  कहा था ना मैने “सोच लो तुम”, जिन्दगी भर रिश्ते निभाना आसान नहीं होता!
  • . एक मैं हूँ, किया ना कभी सवाल कोई, एक तुम हो, जिसका कोई नहीं जवाब.
  •  बहुत लम्बी ख़ामोशी से ग़ुजरा हूँ मैं किसी से कुछ कहने की तलाश में.
  •  शौक से तोडो दिल मेरा, मुझे क्या परवाह, तुम्ही रहते हो इसमें, अपना ही घर उजाड़ोगे.
  •  मेरी आँखों में आसूं… तुझसे हम दम क्या कहूं क्या है, ठहर जाये तो अंगारा है, बह जाये तो दरिया है.
  •  सिर्फ दिल ही दाव पर लगाया था पर उसने तो मेरी जान ही ले ली.
  •  एक चाहत थी तेरे_संग_जीने_की वरना, मौहब्बत तो किसी से भी हो सकती थी।
  •  अजीब सी बस्ती में ठिकाना है, मेरा जहाँ लोग मिलते कम झांकते ज़्यादा है.
  •  चाहने वालो को नही मिलते चाहने वाले. हमने हर दगाबाज़ के साथ सनम देखा है.
  •  मेरे घर से मयखाना इतना करीब न था, ऐ दोस्त कुछ लोग दूर हुए तो मयखाना करीब आ गया.
  •  सुना है तुम ज़िद्दी बहुत हो, मुझे भी अपनी जिद्द बना लो.
  • जो मैं रूठ जाऊँ तो तुम मना लेना, कुछ न कहना बस सीने से लगा लेना।
  •  मरते तो तुझ पर लाखो होगें, मगर हम तो तेरे साथ मरना चाहते है।
  •  ज़िन्दगी बहुत ख़ूबसूरत है, सब कहते थे। जिस दिन तुझे देखा, यकीन भी हो गया.
  •  आज तो हम खूब रुलायेंगे उन्हें, सुना है उसे रोते हुए लिपट जाने की आदत है!
  •  मेरे दिल से उसकी हर गलती माफ़ हो जाती है, जब वो मुस्कुरा के पूछती है, नाराज हो क्या?
  •  मोहब्बत किससे और कब हो जाये अदांजा नहीं होता, ये वो घर है, जिसका दरवाजा नहीं होता.
  •  होता अगर मुमकिन, तुझे साँस बना कर रखते सीने में, तू रुक जाये तो मैं नही, मैं मर जाऊँ तो तू नही.
  •  है कोई वकील इस जहान में, जो हारा हुआ इश्क जीता दे मुझको.
  • अजीब दस्तूर है, मोहब्बत का, रूठ कोई जाता है, टूट कोई जाता है।
  • जी भर गया है तो बता दो, हमें इनकार पसंद है इंतजार नहीं।
  • काश वो भी आकर हम से कह दे मैं भी तन्हाँ हूँ ,तेरे बिन, तेरी तरह, तेरी कसम, तेरे लिए।
  •  दिल्लगी कर जिंदगी से, दिल लगा के चल जिंदगी है थोड़ी, थोडा मुस्कुरा के चल.
  •  ना किसी से ईर्ष्या, ना किसी से कोई होड़, मेरी अपनी मंजीले, मेरी अपनी दौड़.
  •  मैंने समुन्दर से सीखा है जीने का सलीका, चुपचाप से बहना और अपनी मौज में रहना.
  •  मुजे ऊंचाइयों पर देखकर हैरान है बहुत लोग, पर किसी ने मेरे पैरो के छाले नहीं देखे.
  •  जिंदगी मेरे कानो मे अभी होले से कुछ कह गई, उन रिश्तो को संभाले रखना जिनके बिन गुज़ारा नहीं होता.
  •  झूठ बोलते थे कितना, फिर भी सच्चे थे हम ये उन दिनों की बात है, जब बच्चे थे हम!
  •  चेहरे “अजनबी” हो जाये तो कोई बात नही, लेकिन रवैये “अजनबी” हो जाये तो बडी “तकलीफ” देते हैं!
  •  जरूरत और चाहत में बहुत फ़र्क है, कमबख्त़ इसमे तालमेल बिठाते बिठाते ज़िन्दगी गुज़र जाती है!
  • प्यार भी हम करें, इन्तजार भी हम, जताये भी हम और रोयें भी हम…
  • कौन कहता है की सिर्फ ‪चोट‬ ही ‪दर्द‬ देता है असली दर्द मुझे तब होता है जब तू Online‬ आके भी Reply‬ नहीं देती…
  •  बारिश की बूँदों में झलकती है तस्वीर उनकी‬‎और हम उनसे मिलनें की चाहत में भीग जाते हैं‬…
  •  तूने फेसले ही फासले बढाने वाले किये थे, वरना कोई नहीं था, तुजसे ज्यादा करीब मेरे…
  •  फिर नहीं बसते वो दिल जो, एक बार उजड़ जाते है, कब्रें जितनी भी सजा लो पर कोई ज़िंदा नहीं होता…
  •  बेवफ़ाओं की महफ़िल लगेगी, आज ज़रा वक़्त पर आना ‘मेहमान-ए-ख़ास’ हो तुम…
  •  मुझे गरुर था उसकी मोह्ब्बत पर, वो अपनी शोहरत मे हमे भूल गया.
  •  सुना है काफी पढ़ लिख गए हो तुम, कभी वो बी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते.
  • तुमसे बिछड़े तो मालुम हुवा की मौत भी कोई चीज़ हे, ज़िदगी तो वोह थी जो हम तेरी..मेहफिल में गुजार आये।
  • तेरी बेरुखी ने छीन ली है शरारतें मेरी और लोग समझते हैं कि मैं सुधर गया हूँ।
  • तेरे बिना में ये दुनिया छोड तो दूं, पर उसका दिल कैसे दुखा दुं, जो रोज दरवाजे पर खडी केहती हे बेटा घर जल्दी आ जाना…
  • कोई नही आऐगा मेरी जिदंगी मे तुम्हारे सिवा, एक मौत ही है जिसका मैं वादा नही करता…
  •  फ़रिश्ते ही होंगे जिनका इश्क मुकम्मल होता है, हमने तो यहाँ इंसानों को बस बर्बाद होते देखा है।
  •  कुछ कदमों के फासले थे, हम दोनों के दरमीयान, उन्हें जमाने ने रोक़ लिया, और हमने अपने आपको।
  •  उसे किस्मत समझ कर सीने से लगाया था, भूल गए थे के किस्मत बदलते देर नहीं लगती।
  •  नींद तो बचपन में आती थी, अब तो बस थक कर सो जाते है।
  •  खो जाओ मुझ में तो मालूम हो कि दर्द क्या है? ये वो किस्सा है जो जुबान से बयाँ नही होता।
  •  ये तो ज़मीन की फितरत है की, वो हर चीज़ को मिटा देती हे वरना, तेरी याद में गिरने वाले आंसुओं का, अलग समंदर होता।
  •  अजीब दस्तूर है, मोहब्बत का, रूठ कोई जाता है, टूट कोई जाता है।
  •  है कोई वकील इस जहान में, जो हारा हुआ इश्क जीता दे मुझको.
  • काश वो भी आकर हम से कह दे मैं भी तन्हाँ हूँ, तेरे बिन, तेरी तरह, तेरी कसम, तेरे लिए।
  •  वो बड़े ताज्जुब से पूछ बैठा मेरे गम की वजह फिर हल्का सा मुस्कराया, और कहा, मोहब्बत की थी ना?
  •  है कोई वकील इस जहान में, जो हारा हुआ इश्क जीता दे मुझको.
  •  वो मुजे नफ़रत करें या प्यार करें मैं तो एक दीवाना हूँ…
  •  दिल मेरा कूछ टूटा हुआ सा है, उससे कूछ रुठा हुआ सा है.
  •  मेरा होकर भी गैर की जागीर लगता है, दिल भी साला मसला-ऐ-कश्मीर लगता है।
  •  ख़ामोशी बहुत कुछ कहती हे कान लगाकर नहीं, दिल लगाकर सुनो।
  •  माँ कहती है मेरी दौलत है तू,,, और बेटा किसी और को ज़िन्दगी मान बैठा है.
  •  इश्क मुहब्बत क्या है? मुझे नही मालूम! बस तुम्हारी याद आती है… सीधी सी बात है।
  • वो बड़े ताज्जुब से पूछ बैठा मेरे गम की वजह… फिर हल्का सा मुस्कराया, और कहा, मोहब्बत की थी ना?
  • सच कहा था किसी ने तन्हाईयों में जीना सीख लो; मोहब्बत जितनी भी सच्ची हो साथ छोड़ ही जाती है…
  • अपनाने के लिये हजार खुबियाँ कम है, छोड़ने के लिये एक कमी ही काफी है…
  • 99% यकीन था कि तू मेरी नहीं होगी… बस उस 1% ने मुझे किसी और का ना होने दिया…
  • अब भी ताजा है जख़्म सीने में, बीन तेरे क्या रखा है जिने में,
    हम तो जिंदा है तेरा साथ पाने को, वर्ना देर कितनी लगती है ज़हर पीने में…
  • शिकायतेँ अब तुम से नहीँ, अपने आपसे से है…
    माना के सारे झूठ तेरे थे…
    लेकिन यकिन तो उन पर मेरा था न…
  • जो कभी मेरा “‪Password‬” था, ^_^ आज उसके पास मेरे लिए कोई “‪Word‬” नहीं है…
  • आँसू तेरी यादों की कैद में होते है, तेरी याद आने से इन्हें जमानत मिल जाती है…
  • इश्क वो खेल नहीं जो छोटे दिल वाले खेलें, रूह तक काँप जाती है, सदमे सहते-सहते…
  • इश्क हमें जीना सिखा देता है, वफा के नाम पर मरना सिखा देता है…
    इश्क नहीं किया तो करके देखो, जालिम हर दर्द सहना सिखा देता है…
  • उन्हें देखने से जो आती है चहेरे पे रोनक, वो समझते है कि बिमार का हाल अच्छा है…
  • उन्हे हम याद आते है मगर फुर्सत के लम्हों में, मगर ये बात भी सच है की उन्हे फुर्सत नहीं मिलती…
  • एक “खेल-रत्न” उसको भी दे दो, बड़ा अच्छा खेलती है “वो दिल से”
  • कभी फुर्सत मिले तो सोचना जरूर, एक लापरवाह क्यों तेरी परवाह करता था…
  • बर्दाश्त कर लेता हूँ हर दर्द इसी आस के साथ की, खुदा नूर भी बरसाता है, आज़माइशों के बाद…
  • कल रात मैंने अपने सारे ग़म, कमरे की दीवारों पर लिख डाले, बस फिर हम सोते रहे और दीवारें रोती रही.
  • हमारी भी अमीरों में आज गिनती होती… काश तेरी यादों का खज़ाना बेच पाते हम..
  • काश ये दिल बेजान होता, ना किसी के आने से धडकता ना किसी के जाने पर तडपता…
  • कितनी अजीब है मेरे अंदर की तन्हाई, हजारों अपने है फिर भी याद उसी की आती है…
  • किसी को सोचना, फिर मुस्कुराना, और फिर आँसू बहाते हुए सो जाना… ये है मोहब्बत…
  • किसी ने धूल क्या झोंकी आखों में, पहले से बेहतर दिखने लगा है…
  • कोई नही आयेगा मेरी जिदंगी मे तुम्हारे सिवा, एक मौत ही है जिसका मैं वादा नही करता…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Status4Fun © 2018 Frontier Theme